Birthday स्पेशल: 4 ऐसी कॉन्ट्रोवर्सी जिसने बदल डाली थी संजय दत्त की पूरी जिंदगी

बॉलीवुड में खलनायक नाम से पॉपुलर एक्टर संजय दत्त अब 62 साल के हो गए है। 29 जुलाई 1959 में उनका जन्म हुआ। संजय दत शुरू से ही कंट्रोवर्सी में रहें। संजू बाबा की इन कंट्रोवर्सी ने उनकी जिंदगी पूरी तरह बदल कर रख दी। संजय दत कभी अपने अफेयर को लेकर,तो कभी अपने गुस्से और आदतों के कारण अक्सर विवादों में घिरे रहे। इनमें से कुछ ऐसे भी किस्से रहें जिन्होंने संजू बाबा की पूरी जिंदगी बदल डाली।

जिन 4 कंट्रोवर्सी ने बदल डाली थी संजय दत्त की पूरी जिंदगी वो है : 

ड्रग्स की लत

संजय दत ने अपने करियर की शुरुआत 1981 में रॉकी फिल्म से की थी। संजू बाबा को ड्रग्स की बुरी लत थी। ड्रग्स लेने के कारण वह 5 साल की जेल में रहे। इसके साथ ही उन्होंने अमेरिका के नशा मुक्ति केंद्र में दो साल रहकर ड्रग्स से पीछा छुड़ाने के बाद बॉलीवुड में वापसी की।हालांकि संजू बाबा की जिंदगी में बुरे दौर की शुरुआत तभी हो गई थी।जब उनकी पहली फिल्म के प्रिमियर से ठीक तीन दिन पहले उनकी मां और मशहूर अभिनेत्री नरगिस ने दुनिया छोड़ दिया।

संजय दत्त

मुंबई बम धमाके में पाए गए दोषी

1993 में संजय दत की जिंदगी ने गजब की मोड ली। जब मुंबई बम धमाकों की जांच के दौरान संजय दत्त पर हथियार रखने का आरोप लगा। साथ ही 20 साल तक आदलतों के चक्कर काटा और संजय ने 18 महीने की जेल काटी। 2013 के मई में उन्होंने अपनी बाकी बची 42 महीने की सजा काटने के लिए उन्हें जेल भेजा गया।इस मामले के बाद से संजू बाबू की इमेज पर काफी असर पड़ा था।

यह भी पढ़े : 5 ऐसी फिल्में जिसने पार की बोल्डनेस की सारी हदें,सेंसर बोर्ड ने लगाया था बैन

फायरिंग को लेकर विवाद

संजय दत को बचपन से ही गन रखने का शौक था। संजू एक बार इसी शौक के कारण मुसीबत में फंस गए थे। दरअसल एक बार संजय जब छोटे थे तब उनके हाथ सुनील दत की लाइसेंसी रिवाल्वर हाथ लग गई थी। इस रिवॉल्वर को लेकर संजू हवा में फायरिंग करने लगे और इसी दौरान एक गोली उनकी नौकरानी को लग गई। जिसके बाद नौकरानी का इलाज कराके मामले को वहीं निपटाया गया।

संजय

कोस्टार के साथ बिगड़े थे रिश्ते

संजय का रिश्ता कई बड़े स्टार के साथ बनता और बिगड़ता रहा। संजय और गोविंदा की दोस्ती के चर्चे बॉलीवुड में काफी मशहूर थे, लेकिन बाद में दोनों के रिश्ते बिगड़ गए थे। साथ ही संजू बाबा के रिश्ते सलमान ने के साथ भी बनते और बिगड़ते रहे थे।

You may also like...