पटौदी खानदान की बहू और बॉलीवुड एक्ट्रेस करीना कपूर खान और सैफ अली खान के लाड़ले बेटे तैमूर अली खान किसी न किसी वजह से सुर्खियों में रहते ही हैं. कभी अपनी क्यूटनेस को लेकर तो कभी अपनी प्यारी हरकतों की वजह से तैमूर सोशल मीडिया पर छाय रहते हैं.

लेकिन इन दिनों तैमूर अपनी पढ़ाई को लेकर चर्चा मे हैं. दरअसल, पहले कहा जा रहा था कि तैमूर अपने परिवार की परंपरा आगे बढ़ाते हुए इंग्लैंड में बॉर्डिंग स्कूल में पढ़ाई करने जाएंगे. लेकिन बीते कुछ दिनों से एक के बाद एक ये खबरे आ रही है अब ऐसा कुछ नहीं होगा.

एक रिपोर्ट के मुताबिक, इस बारे में बताते हुए फिल्म क्रिटिक सुभाष के झा ने बताया, कि पटौदी परिवार में हमेशा से ही ऐसा हो रहा है. मंसूर अली खान पटौदी पढ़ने के लिए इंग्लैंड गए थे. उन्ही को फॉलो करते हुए उनके बेटे सैफ और बेटिया सबा व सोहा गए. वहीं सैफ अली खान की पहली शादी के दोनों बच्चे सारा अली खान और इब्राहिम अली खान भी पढ़ने के लिए इंग्लैंड के बॉर्डिंग स्कूल गए. जिसके बाद अब तैमूर की बारी है.

खबर आई थी कि तैमूर जल्दी ही बॉर्डिंग स्कूल जा सकते हैं, लेकिन बता दें कि ये सच नहीं है. तैमूर अली खान को 12-13 साल की उम्र से पहले बॉर्डिंग स्कूल नहीं भेजा जाएगा. जहां एक और सैफ अली खान नहीं चाहते कि तैमूर को पढ़ने के लिए बाहर भेजा जाए वहीं दूसरी और करीना इस बात पर अड़ी हुई हैं. करीना चाहती हैं कि एक उम्र के बाद तैमूर को बॉर्डिंग स्कूल भेजा जाए.

सुभाष के झा ने बताया, कि करीना को लगता है लगातार मीडिया का अटेंशन तैमूर अली खान के लिए अच्छा नहीं हैं और कही न कही ये बात सच भी है. तो दूसरी तरफ सैफ इस बात को लेकर श्योर नहीं है कि उनका बेटा अपनी बढ़ती उम्र में परिवार से दूर रहे.

अभी फिलहाल तैमूर के लिए मुंबई में सबसे बड़े स्कूल की तलाश की जा रही है जिसमें सबसे पहला नाम धीरूभाई अंबानी इंटरनेशनल स्कूल का है. इस स्कूल में कई सारे सेलेब्स के बच्चे पढ़ते हैं

Loading...
Categories: Bollywood