Dilip Kumar ने 98 की उम्र में दुनिया को कहा अलविदा, 22 की उम्र में बॉलीवुड में रखा था कदम

हिंदी सिनेमा जगत के दिग्गज अभिनेताओं में से एक दिलीप कुमार ने बुधवार सुबह को अपनी अंतिम सांस ली. मुंबई के एक अस्पताल में सुबह 7.30 के करीब ‘ट्रेजडी किंग’ का देहांत हो गया. बता दें कि दिलीप कुमार 98 साल के थे और एक लंबे वक्त से बीमार चल रहे थे. बीते एक महीने में उनकी हालत को देखते हुए उन्हें दो बार अस्पताल में भर्ती कराया जा चुका था. बॉलीवुड के लिए ये एक काफी दुख भरा दिन है. दिलीप कुमार के साथ ही हिंदी सिनेमा के एक और युग का अंत हो गया.

 

मोहम्मद युसुफ खान उर्फ दिलीप कुमार ने पाकिस्तान के पेशावर में 11 दिसंबर 1922 में जन्म लिया था. उनकी पढ़ाई-लिखाई नासिक में हुई थी और बचपन में ही उनकी दोस्ती राज कपूर से हो गई थी. ऐसा लगता है जैसे उसी वक्त से उनके बॉलीवुड सफर की शुरूआत हो गई थी. जिसके बाद करीब 22 साल की उम्र में ही दिलीप कुमार को उनकी पहली फिल्म में काम करने का मौका मिल गया था. 1944 में उन्होंने फिल्म ‘ज्वार भाटा’ में काम किया था. हालांकि, इस फिल्म से उन्होंने बॉलीवुड में कदम तो रखा, लेकिन इस फिल्म ने उन्हें उनकी पहचान न दिला पाई.

 

अपने पांच दशक के करियर में ट्रेजेडी किंग ने करीब 60 फिल्मों में काम किया. इसके अलावा उन्होंने कई फिल्मों के ऑफर को भी ठुकरा दिया था. दिलीप कुमार का कहना था कि फिल्में कम करो लेकिन बेहतरीन करो. लेकिन इसके बावजूद भी दिलीप कुमार को प्यासा और दीवार जैसी फिल्मों को ठुकराने का मलाल जरूर था.

बताते चलें, साल 1966 में दिलीप कुमार ने सायरा बानो के साथ शादी रचाई थी. हालांकि, सायरा बानो उनसे 22 साल छोटी थीं, लेकिन उनके प्यार के बीच उम्र न आ सकी. सायरा बानो दिलीप कुमार की दूसरी बीवी थी और उनके अंतिम सांस तक उन्होंने दिलीप कुमार का साथ निभाया.

You may also like...