बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेता ऋषि कपूर का गुरुवार सुबह निधन हो गया। ऋषि कपूर कैंसर से पीड़ित थे और बुधवार शाम को अचानक सांस लेने में दिक्कत होने के कारण उन्हें मुंबई के एचएन रिलायंस फाउंडेशन अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जहां उनका निधन हो गया। ऋषि कपूर के निधन की खबर से बॉलीवुड समेत देश भर में शोक की लहर है। ऋषि कपूर लंबे समय से कैंसर से पीड़ित थे और उनका दो वर्षों से विदेश में कैंसर का इलाज चल रहा था और कुछ समय पहले सेहत में सुधार होने के बाद वो मुंबई वापस आए थे।

ऋषि कपूर एक जिंदा दिल इंसान थे कैंसर जैसी बीमारी होने के बावजूद भी वो खुश रहते थे और अपनी आखिरी सांस तक लड़ते रहे। उन्होने अपने जीवन की सारी ख्‍वाहिशें पूरी कर ली थी लेकिन दो बड़ी और आखिरी ख्‍वाहिशों के साथ दुनिया को सदा के लिए अलविदा कह गए।

ऋषि कपूर चाहते थे कि इसी साल के अंत तक अपने बेटे रणवीर कपूर की शादी कर दें लेकिन कैंसर जैसी भयावह बीमारी के सामने वो हार गए और उनके दिल में बेटे का दुल्हा बनें देखने की आखिरी ख्‍वाहिश सदा के लिए अधूरी ही रह गई। मालूम हो कि लंबे अरसे से रणवीर और आलिया एक दूसरे को डेट कर रहे हैं।

आपको बता दें कि जुलाई 2018 में ऋषि कपूर ने एक इंटरव्यू के दौरान कहा था. कि मैं जब भी रणवीर को शादी करने और सेटल हो जाने की बात कहता हूं तो वो भाग जाता है। मेरी भी तमन्‍ना हैं कि मैं और मेरी पत्‍नी नीतू जल्‍दी से दादा-दादी बने और अपने पोते-पोतियों को हम अपनी गोद में खिलाएं। शायद कुदरत को यह मंजूर नहीं था इसलिए ऋषि कपूर यह दिन देखने से पहले ही इस दुनिया को अलविदा कह गए।