Olympics में छाईं देश की बेटियां, मैरी कॉम के साथ ही मनिका बत्रा और भवानी देवी ने भी हासिल की जीत

इस बार का ओलंपिक हर बार की तुलना कुछ अलग ही देखने को मिल रहा है. हर बार जहां ओलंपिक में पुरुषों की संख्या ज्यादा होती थी, वहीं इस बार महिला और और पुरुष दोनों का अनुपात लगभग बराबर है. वहीं अगर बात करें ओलंपिक में देश की बेटियों की तो इस बार देश की बेटियों ने भी ओलंपिक में अपना अलग ही स्थान पाया है. मैरी कॉम से लेकर मनिका बत्रा और सी.ए. भवानी देवी ने भी अपनी जीत के साथ देश का सिर फक्र से ऊंचा कर दिया है.

 

देश की बेहतरीन महिला बॉक्सर मैरी कॉम ने शानदार दाव दिखाते हुए अपनी प्रतिद्वंदी हर्नांडिज गार्सिया को 4-1 से हराते हुए जीत हासिल की है. इसी के साथ ही टेबल टेनिस की महिला एकल स्पर्धा में मनिका बत्रा ने भी जीत अपने नाम की है. हालांकि, एक बार तो वो अपनी प्रतिद्वंदी यूक्रेन की मार्गरीटा पेकोत्स्का के खिलाफ कमजोर दिखाई पड़ रही थीं. जिसके बाद उन्होंने जबरदस्त वापसी करते हुए शानदार जीत हासिल की है. वहीं तलवारबाजी में ट्यूनीशिया की नादिया बेन अजीजी को पहले चरण में 15-3 से हराते हुए भवानी देवी ने दूसरे चरण में अपनी जगह बनाई है. जिसके बाद अब भवानी देवी दूसरे चरण में फ्रांस की मैनन ब्रूनेट का सामना करेंगी.

 

 

इसी के साथ ही तीरंदाजी में जीत के साथ ही भारतीय टीम ने आज खाता खोला है. अतनु दास, प्रवीण जाधव और तरुणदीप राय की टीम ने कजाकिस्तान को हार का स्वाद चखाते हुए क्वाटर फाइनल में अपनी जगह बनाई है. जिसके बाद अब क्वाटर फाइनल में भारतीय टीम के सामने कोरिया की टीम होगी.

You may also like...