सुशांत की फिल्म ‘छिछोरे’ को नेशनल अवॉर्ड मिलने पर पिता हुए इमोशनल, कहा- ‘मेरा बेटा जिंदा होता तो…’

दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की फिल्म ‘छिछोरे’ को सर्वश्रेष्ठ फिल्म का राष्ट्रीय पुरस्कार मिला है. जहां एक तरफ सोशल मीडिया पर सुशांत के फैंस इस पर खुशी जाहिर कर रहे हैं. तो वहीं बेटे की फिल्म को मिले इस सम्मान से उनके पिता के.के. सिंह बेहद खुश हैं. उन्होंने कहा कि उन्हें आज अपने बेटे पर बहुत गर्व हो रहा है.

के.के. सिंह ने कहा कि, ‘आज जो सम्मान सुशांत को मिल रहा है वो इसका हकदार था. क्योंकि बचपन से उसके भीतर काम करने की लगन और जज्बा था. उन्हें भरोसा था कि उनके घर का गुलशन एक दिन देश और दुनिया में परिवार और पिता का नाम रौशन करेगा.’ घर में सभी लोग सुशांत को गुलशन कहकर बुलाते थे.

के.के. सिंह ने आगे कहा कि, ‘फिल्म को देखने के बाद वो अपने बेटे के अभिनय के कायल हो गए थे. फिल्म एमएस धोनी में सुशांत ने जो किरदार निभाया था वो लाजवाब था, मैंने तभी कहा था कि मेरा बेटा अब सुपरस्टार हो गया है. सुशांत को तब उस फिल्म के लिए भी अवॉर्ड देना चाहिए था. मेरे बेटे में वो जज्बा भी था और काबिलियत भी थी, जिसके दम पर वो इस सम्मान को हासिल कर सके. गुलशन ने वाकई कमाल कर दिया. बस अगर आज वो हम सबके बीच होता तो मैं दौड़कर अपने बेटे को गले लगा लेता.’

सुशांत के पिता ने कहा कि, ‘सुशांत ने उनसे छिपकर फिल्मों की पढ़ाई और ट्रेनिंग ली. शुरुआत में मैं सुशांत के इस फैसले के खिलाफ था लेकिन गुलशन की मां इस पर अपने बेटे के साथ खड़ी थी. इसके बाद आखिरकार मैंने भी तय कर लिया कि गुलशन को फिल्मों में जाने से नहीं रोकूंगा. गुलशन अपनी चारों बहनों का लाडला भाई था. उसकी मां भी अपने बेटे को बेहद प्यार करती थी. अपने पैशन को फॉलो कर कब मेरा गुलशन स्टार सुशांत सिंह राजपूत बन गया, यह पता ही नहीं चला. आज मुझे उसपर गर्व होता है लेकिन मन में बहुत दुख है कि आज अगर मेरा गुलशन जिंदा होता तो वो सुपरस्टार होता.’

बता दें कि साल 2019 में फिल्म ‘छिछोरे’ रिलीज हुई थी. फिल्म में सुशांत सिंह राजपूत के अलावा श्रद्धा कपूर, ताहिर राज भसीन, वरुण शर्मा, तुषार पांडे और प्रतीक बब्बर लीड रोल में थे. फिल्म का निर्देशन नीतेश तिवारी ने किया था. गौरतलब है कि 14 जून 2020 को सुशांत सिंह राजपूत अपने मुंबई स्थित फ्लैट में मृ’त पाए गए थे.

You may also like...